पाठा के गांवों में भी लहलहा रही है धान की खेती

ग्राम पंचायत के सामुदायिक भवन में चल रहे कृषि प्रशिक्षण में जिन्होंने मनगवां, छिवलहा, इटवा एवं टिकरिया के 85 किसान प्रतिभाग कर रहे थे, कोदू ने बताया की उसने 1 बीघे में श्री पध्दति से धान लगाया है इस समय उसमें एक गांठ में 70-70 कल्ले हैं। पहले वह छिटकवां धन भगवान भरोसे बोते थे जिसका उत्पादन नाम मात्र ही होता ठ लेकिन आज इस पध्दति से धान बोने से लग रहा की धान का उत्पादन कई गुना ज्यादा होगा। 

डाउनलोड रिपोर्ट
चित्रकूट 19 सितम्बर, 2010

Links

Bundelkhand Info

Free online encyclopedia on Bundelkhand, from a development perspective, web published by ABSSS. View Site